Fish Farming: सरकार दे रही है लाखों की आर्थिक सहायता, मछली पालन में होगी अब छप्परफाड़ कमाई, देखें कैसे लेना है लाभ

Written by Priyanshi Rao

Published on:

Fish Farming – वैसे तो सरकार की तरफ से देश के किसान भाइयों को अपना खुद का बिज़नेस चलाने वालों के लिए बहुत सी योजनाओं को चलाया जा रहा है। लेकिन मौजूदा समय में सरकार की तरफ से मछली पालन करने पर काफी मोटा पैसा दिया जा रहा है। सरकार की तरफ से इसके लिए अलग से एक योजना की शुरुआत की गई है और इसमें आवेदन करके मछली पालन करने वाले लाभ ले सकते है।

सरकार की तरफ से इस योजना के तहत मछली पालन करने वालों को 1.60 लाख रुपये रूपए की आर्थिक सहायता का लाभ दिया जा रहा है। अगर आप मत्सय पालन करते है और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपके लिए इस आर्टिकल में बहुत खास जानकारी हमने यहां पर दी है। इसलिए चलिए जानते है की आखिर कैसे आप इस योजना का लाभ ले सकते है और कैसे आपको इस योजना के लिए आवेदन करना है।

कौन सी योजना चलाई है सरकार ने

सरकार की तरफ से मछली पालन करने वालो को आर्थिक लाभ देने के लिए नई योजना की शुरुआत की है जिसमे आवेदन करने के बाद में आपको सरकार की तरफ से अनुदान दिया जा रहा है। इस स्कीम को भारत की केंद्र सरकार के मत्स्य विभाग की तरफ से चलाया जा रहा है और इस योजना को केसीसी मत्स्य पालन योजना का नाम दिया गया है।

आप भी इस योजना में आवेदन करके इसका लाभ ले सकते है। इसके लिए आपको सरकार की तरफ से बनाये गए कुछ नियमों का पालन करना होगा और विभाग में जाकर के कुछ जरुरी दस्तावेजों को भी जमा करना होता है। इसके बाद ही आपको सरकार के मत्सय विभाग की तरफ से इस योजना का लाभ दिया जाता है।

केसीसी मत्स्य पालन योजना क्या है

मत्सय विभाग की तरफ से चलाई जा रही केसीसी मत्स्य पालन योजना के तहत मछली पालन करने वालों को एक कार्ड बनाकर दिया जा रहा है। जैसे आपने देखा होगा की सरकार की तरफ से देश के सभी किसानों को KCC Card बनाकर दिया जाता है जिसमे किसान ऋण का लाभ ले सकते है ठीक वैसे ही सरकार की तरफ से इस योजना के तहत भी मछली पालन करने वाले सभी मछली पलकों को कार्ड बनाकर दिया जा रहा है।

इस कार्ड के जरिये जो अनुदार की राशि किसान को मिलती है वो पार्टी हेक्टेयर के हिसाब से दी जाती है। मां लीजिये की अगर आपने एक एकड़ के खेत में तालाब बनाकर मछली पालन का बिज़नेस शुरू किया हुआ है तो एक एकड़ के लिए सरकार की तरफ से आपको इस योजना के तहत 1 लाख 60 हजार रूपए की धनराशि दी जाती है जिसका उपयोग आप अपने मछली पालन के बिज़नेस को और आगे बढ़ाने के लिए कर सकते है।

कैसे करना होगा आवेदन

अगर आप मत्सय पालन का बिज़नेस कर रहे है तो आपको सरकार की इस योजना के तहत लाभ मिल जायेगा। इसके लिए आपको अपने जिले के मत्सय विभाग में जाकर आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको कुछ जरुरी दस्तावेज भी लेकर जाने होते है। दस्तावेजों की अधिक जानकारी के लिए आवेदन से पहले एक बाद मत्सय विभाग में जाकर जानकारी जरूर हासिल करें और उसके बाद में सभी दस्तावेजों को तैयार करके ही आवेदन का कार्य पूरा करें। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन की सुविधा नहीं दी जा रही है।

मत्सय विभाग में आवेदन करने के बाद में आपके नाम से मत्सय विभाग की तरफ से एक फाइल तैयार की जाती है और उसके बाद में आपके मछली पालन के व्यवसाय का निरिक्षण अधिकारीयों के द्वारा किया जाता है। सबकुछ सही पाए जाने के बाद में आपके कार्ड वाले बैंक खाते में अर्थी सहायता की राशि का भुगतान कर दिया जाता है।

मछली पालन से लाखों में है कमाई

आज के समय में मछली पालन करने का बिज़नेस बहुत फल फूल रहा है और इसका कारण ये है की मौजूदा समय माँ मछली की डिमांड बाजार में बहुत अधिक बढ गई है। इसलिए देश में हजारों की संख्या में आज छोटे मछली पालन के बिज़नेस ने पिछले कुछ सालों के दौरान काफी बढ़ौतरी की है। मछली की अधिक डिमांड होने के कारण से अब इनके रेट भी काफी अधिक बढ चुके है जिससे मछली पालन करने वाली को कमाई भी अधिक हो रही है। आप भी सरकार की इस योजना का लाभ लेकर के अपने मछली पालन के बिज़नेस को और अधिक आगे लेकर जा सकते है और अपनी कमाई को लाखों में पहुंचा सकते है।

Leave a Comment