लाडली बहना योजना 2023: सभी बहनें तुरंत कर लें यह काम वरना नहीं मिलेंगी तीसरी किस्त, देखें नया नियम

Written by Priyanshi

Published on:

नई दिल्ली. लाड़ली बहना योजना 2023: ये योजना प्रदेश की लाखों बहन बेटियों के लिए चलाई जा रही है ताकि सरकार की तरफ से उनको हर महीने कुछ आर्थिक मदद दी जा सके। मध्यप्रदेश की सरकार की तरफ से चलाई इस योजना का लाभ प्रदेश भर की लाखों महिलाओं को मिल रहा है। लेकिन अब सरकार की तरफ से इस योजना में एक और नया विकल्प जोड़ा गया है जिसकों सरकार की तरफ से परित्याग विकल्प का नाम दिया गया है। अब सभी महिलाओं को जो इस योजना के तहत लाभ ले रही है उनको इस ऑप्शन के साथ दिए गए फॉर्म को भरकर सबमिट करना होगा।

परित्याग ऑप्शन क्या है। (Ladli Bahna Yojana)

लाड़ली बहना योजना में सरकार की तरफ से एक और ऑप्शन जोड़ दिया गया है। इस परित्याग नाम के ऑप्शन को अब आप लाड़ली बहना योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर भी जाकर चेक कर सकते है। जिस प्रकार से इस ऑप्शन का नाम दिया गया है ठीक उसी तरफ से ये ऑप्शन काम भी करता है। परित्याग का मतलब होगा है छोड़ना यानि की जो भी बहने अब आगे से इस ऑप्शन का चुनाव करती है तो उनको हर महीने मिलने वाली हजार रुपये की क़िस्त के पैसे मिलने बंद हो जायेंगे। लाड़ली बहना योजना के तहत उनको पैसे मिलने बंद कर दिए जायेंगे।

परित्याग विकल्प को क्यों शुरू किया गया है

लाड़ली बहना योजना के तहत एक और नया ऑप्शन आ गया है जिसका नाम परित्याग ऑप्शन है। प्रदेश भर से किसी भी महिला का नाम अगर इस योजना में जोड़ा गया है और महिला को लगता है की वह लाड़ली बहना योजना के मानदंडों को पूरा नहीं करती है तो वह परित्याग का विकल्प का चुनाव करके इस योजना से बाहर हो सकती है। ऐसा करने से उस महिला को लाड़ली बहाना योजना के तहत मिलने वाली धनराशि बंद कर दी जाएगी।

सरकार की तरफ से ये ऑप्शन इसलिए जोड़ा गया है की अगर कोई बहना इस योजना के लिए पत्र है और इसका लाभ ले रही है लेकिन किसी भी कारण वस् वो अब पत्र नहीं है जैसे की उसकी कोई नौकरी लग गई या फिर कोई और भी कारण हो सकता है। इसलिए वे सभी बहना जो शुरू में तो इस योजना की पत्र थी लेकिन अब नहीं हैं वे परित्याग ऑप्शन का इस्तेमाल करके इस योजना का लाभ लेने से मन कर सकती है।

यहां पर आपको एक बात और भी बता देते है की यदि कोई बहाना पहले इस योजना का लाभ ले रही थी और अब वह इस योजना के तहत लाभ लेने की पत्र नहीं है और वो परित्याग का ऑप्शन भी इस्तेमाल नहीं कर रही है। इसके लिए भी सरकार ने कुछ नियम बनाये है। सरकार को उस बहना के आधार कार्ड से ही ये पता चल जाता है की कौन पत्र है या कौन अब इस योजना की पत्र नहीं है। इसलिए सभी बहनो को जो अब इस योजना की पत्र नहीं हैं उनको इस ऑप्शन का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। ऐसा करने से और अधिक बहनो को जो इस योजना के तहत पत्र होंगी उनको भी इसका लाभ आसानी से मिलता रहेगा।

Leave a Comment