Lentils Cultivation: मसूर की खेती की उन्नत किस्मे कौन कौन सी हैं

Written by Priyanshi

Updated on:

नई दिल्ली. Lentils Cultivation – भारत कृषि प्रधान देश है और यहाँ पर हर तरफ की खेती की जाती है। जैसा की आपने शीर्षक में पढ़ा है की मसूर की खेती (Masur Ki Kheti) के लिए कौन कौन सी प्रमुख किस्में हैं जो किसान भाइयों को अधिक पैदावार देती है तो आपको बता दें की मसूर की खेती के लिए ऐसी बहुत साड़ी किस्मे है तो अधिक पैदावार देती है लेकिन किस्मों की पैदावार खेत की मिट्टी और वहां की जलवायु पर निर्भर करती है। किसान भाई अगर अपने खेत में सबसे बेहतरीन पैदावार देने वाली किस्म का चुनाव करके मसूर की खेती करते है और जलवायु उस स्थान की उपयुक्त नहीं है तो आपको पैदावार नहीं मिलेगी। लेकिन फिर भी हम आपको मसूर की खेती (Masur Ki Kheti) के लिए सबसे उपयुक्त किस्में कौन कौन सी है वो यहां पर इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं। इससे पहले आपको मसूर की खेती (Masur Ki Kheti) की शार्ट में जानकारी दे देतें है।

मसूर की खेती (Masur Ki Kheti) रबी की फसल मानी जाती है जिसकी बुवाई खरीफ की फसल के काटते ही कर दी जाती है। भारत में दलहनी फसलों में मसूर सबसे अधिक बोये जाने वाली फसलों में से एक है जिसको किसान भाइयों के द्वारा मुख्य रूप से बोया जाता है। जैसे की आपको हमने ऊपर बताया की मसूर की खेती रबी की फसल है तो इसकी बुवाई ठन्डे इलाकों में जायदा की जाती है। भारत में मसूर की खेती (Masur Ki Kheti) करने वाले राज्यों में बिहार, झारखण्ड, यूपी, एमपी के अलावा पश्चिमी बंगाल और छत्तीसगढ़ शामिल है। इन राज्यों में मसूर की खेती बहुत अधिक मात्रा में की जाती है।

देखिये मसूर की खेती के लिए प्रमुख किस्मे कौन कौन सी है?

मसूर की उन्नत किस्मेंफसल की अवधीउत्पादन सीमा (लगभग)
हरियाणा मसूर 1130-140 दिन15-20 कुंतल प्रति एकड़
के.एल. एस. 218120-130 दिन15-20 कुंतल प्रति एकड़
पूसा – 1110-110 दिन18-20 कुंतल प्रति एकड़
जे. एल. – 3100-110 दिन12-15 कुंतल प्रति एकड़
पन्त एल – 406150-155 दिन30-32 कुंतल प्रति एकड़
टाइप – 36135-135 दिन20-22 कुंतल प्रति एकड़
बी. 77110-120 दिन18-20 कुंतल प्रति एकड़
जे. एल. एस. – 2100-110दिन20-22 कुंतल प्रति एकड़
नूरी (आईपीएल-81)110-120 दिन12-15 कुंतल प्रति एकड़
मलिका (के -75)120-130 दिन12-15 कुंतल प्रति एकड़
सीहोर 74-3120-130 दिन10-15 कुंतल प्रति एकड़
सपना130-140 दिन22-22 कुंतल प्रति एकड़
बीआर – 25120-130 दिन15-20 कुंतल प्रति एकड़
जे. एल. एस. – 1120-125 दिन20-22 कुंतल प्रति एकड़
पन्त एल – 639130-140 दिन18-20 कुंतल प्रति एकड़
एल. 9-12130-140 दिन18-20 कुंतल प्रति एकड़

किसान भाई इन मसूर की किस्मों में से अपने खेत में मसूर की खेती करने के लिए चुनाव कर सकते हैं। ये सभी किस्मे अधिक पैदावार देती है लेकिन आपको एक बार फिर से बता देते हैं की पैदावार आपके खेत की जमीं और वहां की जलवायु पर निर्भर करती है। दोस्तों आपको ये आर्टिकल कैसे लगा इसके लिए कमेटं में जरुरत बताना और साथ में इस आर्टिकल को शेयर करना बिलकुल मत भूलना। धन्यवाद

Leave a Comment